No Work Is Small

जरा सोचिए !!!

www.whatsapptrollingjokes.comअब्राहम लिंकन की जीवनी हमारे जीवन-उत्कर्ष के लिए प्रेरणास्वरूप है।
अभावों में जन्में और पले अब्राहम ने बचपन में एक सपना संजोया था – अमेरीका का राष्ट्रपति बनने का।
जरा सोचिए की अगर वे प्रारम्भ में आई कठिनाइयों और असफलताओं को अपना भाग्य मान लेते और आगे कभी कांग्रेस, सीनेट, और उप-राष्ट्रपति का चुनाव ही न लड़ते!
तो क्या वह कभी 52 साल की आयु में अमेरीका के राष्ट्रपति बन पाते।
मुझे ऐसा लगता है कि अवसर और धन हमारे पास हमेंशा न सही पर लाइफ में एक बार आना प्रकृति का नियम है। हो सकता है किशोरवस्था में न आकर युवावस्था में आये पर आएगा जरूर।
अब यदि कोई हाथ में आये अवसर को पहचान न सके या उसका उपयोग करके धनी बनने को तैयार न हो तो इसका दोषी वह स्वयं है।

काम जो भी किसी को मलिता है वह छोटा या बड़ा नहीं होता।
आरम्भ में तो कोई भी प्रयास सौ प्रतिसत सफल नहीं होता।

Leave a Reply